BREAKING NEWS
Search

भक्तों एवं शिष्यों ने मनाया नंदोत्सव

57

जयपुर, 20 अगस्त 2022(न्याय स्तंभ) जगतपुरा में स्थित हरे कृष्ण मूवमेंट के श्री कृष्ण बलराम मंदिर में शनिवार को हरे कृष्ण आंदोलन के संस्थापक आचार्य कृष्ण कृपा मूर्ति अभय चरण अरविंद भक्तिवेदांत स्वामी प्रभुपाद की 126वी जयंती मनाई गई। इस अवसर पर मंदिर में व्यास पूजा के अंतर्गत शाम को अभिषेक और हरि नाम संकीर्तन किया गया । श्री कृष्ण एवं श्री चैतन्य महाप्रभु के भजनों का भक्तों ने खूब आनंद लिया । मंदिर के अध्यक्ष अमितासन दास के सानिध्य में भक्तों ने जगतगुरु स्वामी श्रील प्रभुपद का विभिन्न प्रकार के फूलों एवं फलों के रस एवं पंचामृत से अभिषेक किया, इस अवसर पर श्री कृष्ण बलराम मंदिर की में मनमोहक झांकी सजाई गई ।

मंदिर अध्यक्ष अमितासन दास ने बताया कि श्री श्रील प्रभुपद जी 69 वर्ष की उम्र होने के बाद भी वे अमेरिका गए थे और उन्हें 11 साल में पूरी दुनिया में भगवन श्री कृष्ण के 108 मंदिरों की स्थापना की थी । उन्होंने 14 बार पूरी दुनिया में भगवान श्री कृष्ण भगवत गीता का प्रचार किया था । जन्माष्टमी के महोत्सव के बाद अगले दिन नंद उत्सव मनाया जाता है । इस अवसर पर श्री कृष्ण बलराम मंदिर जयपुर जगतपुरा में विशेष कार्यक्रमों का आयोजन किया गया भगवान कृष्ण का मधुर भजनों का गायन किया गया एवं ठाकुर जी को विशेष भोग अर्पण किए गए इस अवसर पर भगवान कृष्ण की लीलाओं पर आधारित नाट्य प्रस्तुतियां भी की गई मंदिर में मनमोहक स्वागत झांकी की गई एवं महा संकीर्तन किया गया आखिर में पुष्प वर्षा के साथ पालकी उत्सव मनाया गया और महा आरती की गई इस अवसर पर श्रील प्रभुपद जी की जीवन गाथा पर आधारित एक फिल्म का मंचन किया गया |
नंदोत्सव के इस अवसर पर कृष्ण बलराम को केक भी चढ़ाया गया और फिर सभी एकत्रित भक्तों को वितरित किया गया।भारत के कई प्रमुख शहरों से आए युवा भक्तों ने भगवान श्री कृष्ण की लीलाओं और शिक्षाओं पर विभिन्न नाटकों का प्रदर्शन किया ।



न्याय की अवधारणा को सशक्त बनाने हेतु समाचार पत्र न्याय स्तम्भ के माध्यम से एक अभियान चलाया जा रहा है। आइए अन्याय और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने के लिए आप भी हमारा साथ दीजिये। संपर्क करें-8384900113


Leave a Reply

Your email address will not be published.