कांग्रेस के कुछ पीएम सिर्फ नाम के प्रधानमंत्री थे-शेखावत

168

प्रबुद्धजन सम्मेलन में केंद्रीय जलशक्ति मंत्री ने जमकर साधा कांग्रेस पार्टी पर निशाना

रानी रंगा देवी जौहर स्मृति और प्रतिभा सम्मान समारोह में भी हुए शामिल

सवाईमाधोपुर, 25 जून 2023, केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा कि कांग्रेस के कुछ प्रधानमंत्री तो ऐसे बने जो सिर्फ नाम के प्रधानमंत्री थे। उनका रिमोट किसी और के हाथ में था।

रविवार को सवाई माधोपुर के प्रबुद्धजन सम्मेलन में केंद्रीय मंत्री शेखावत ने कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कई प्रधानमंत्री आए और चले गए, कांग्रेस के भी कई प्रधानमंत्री रहे, जिन्होंने कभी देश में बदलाव लाने की नहीं सोची। कांग्रेस के कुछ प्रधानमंत्री तो ऐसे बने, जो सिर्फ नाम के प्रधानमंत्री थे, उनका रिमोट किसी और के हाथ में था। शेखावत ने मोदी सरकार के 9 साल के कार्यकाल में की जनकल्याणकारी योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी।

शेखावत ने सम्मेलन में आए आपातकाल में जेल गए लोकतंत्र सेनानियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि आपने जिस कालखंड में 19 महीने जेल में काटे, उसी का प्रतिफल है कि श्यामप्रसाद मुखर्जी का जो सपना था कि कश्मीर हमारा है और उसे हम लेकर रहेंगे। उसको आज हमने मोदी के नेतृत्व में साकार होते हुए देखा है‌। प्रबुद्धजन सम्मेलन के समापन पर शेखावत ने उपस्थित लोकतंत्र सेनानियों का अभिनंदन किया। सम्मेलन को नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने भी संबोधित किया।

इतिहास को तोड़-मरोड़कर किया पेश
श्री राजपूत करणी सेना के द्वारा आयोजित रानी रंगा देवी जौहर स्मृति और प्रतिभा सम्मान समारोह में केंद्रीय मंत्री शेखावत ने कहा कि श्री राजपूत करणी सेना की यह पहल इतिहास के संरक्षण में मिल का पत्थर साबित होगी। उन्होंने कहा कि देश में राजपूत समाज का इतिहास तोड़-मरोड़कर पेश किया गया है। इतिहास से जिस तरह छेड़छाड़ की गई है, महाराणा प्रताप के बजाय अकबर को महान बताया गया है। ऐसे में हमें हमारे इतिहास को संरक्षण देने की आवश्यकता है और इस कार्य को करणी सेना बखूबी कर रही है। श्री राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष महिलाप सिंह मकराना ने कहा कि रणथंभौर की रानी रंगा देवी ने आक्रान्ताओं से बचने के लिए 12 हजार रानियों और राजपूत स्त्रियों के साथ देश का पहला जल जौहर किया था। श्री राजपूत करणी सेना इस तरह के इतिहास को संरक्षित करने के लिए संकल्पबद्ध है। समारोह में राजपूत समाज की 100 प्रतिभाओं को प्रतीक चिह्न और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। नेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़, श्री राजपूत करणी सेना के प्रदेश अध्यक्ष भंवर सिंह, राष्ट्रीय महासचिव दिलीप सिंह खिजरी, जिलाध्यक्ष रविन्द्र सिंह चितारा आदि समारोह में उपस्थित रहे।



न्याय की अवधारणा को सशक्त बनाने हेतु समाचार पत्र न्याय स्तम्भ के माध्यम से एक अभियान चलाया जा रहा है। आइए अन्याय और भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ने के लिए आप भी हमारा साथ दीजिये। संपर्क करें-8384900113


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *