पुलिस इकाईयों के अस्पतालों का होगा सुदृढ़ीकरण

पुलिस इकाईयों के अस्पतालों का होगा सुदृढ़ीकरण

जयपुर, 10 मई। महानिदेशक पुलिस एम.एल. लाठर की अध्यक्षता में स्टाफ काॅन्सिल की वर्चुअल वार्षिक बैठक आयोजित की गई। बैठक में थाना स्तर तक के पुलिस कर्मियों की समस्याएं सुनी गई एवं आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये। 
     लाठर ने वैश्विक महामारी कोरोना के संक्रमण की रोकथाम के लिए पुलिस कर्मियों द्वारा फ्रन्टलाईन वर्कर के तौर पर किये जा रहे कार्यों की सराहना की। उन्होंने सभी जिला पुलिस अधीक्षकों को कोरोना की टफ ड्यूटी के दौरान पुलिस कर्मियों की सुरक्षा व सुविधाओं पर समुचित ध्यान देने के निर्देश दिये। 

उन्होंने इस सम्बन्ध में पुलिस कर्मियों को राज्य सरकार की ओर से कोरोना काल के दौरान इस कार्य के लिए उपलब्ध कराये गये बजट की जानकारी दी एवं इस बजट का यथोचित उपयोग करने के निर्देश दिये। 

     महानिदेशक पुलिस ने राजस्थान पुलिस की 46 इकाईयों में स्थित चिकित्सालयों के सुदृढ़ीकरण की आवश्यकता प्रतिवादित करते हुए इसके लिए राज्य सरकार से प्राप्त सुविधाओं के साथ ही स्थानीय स्तर पर जिला कलक्टर, सीएसआर अथवा भामाशाहों के सहयोग से अस्पतालों को ऑक्सीजन कन्संट्रेटर सहित आवश्यक सुविधाओं से सुसज्जित करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में आवश्यक सुविधायुक्त चिकित्सालय पुलिस कर्मियों के लिए भी उपयोगी सिद्ध हो सकते हैं। 
 लाठर ने पुलिस कर्मियों के वैक्सीनेशन कार्यक्रम की विस्तार से समीक्षा की। बताया गया है कि अब तक राजस्थान पुलिस के 81 हजार से अधिक अधिकारियों व जवानों को कोरोना की प्रथम डोज एवं 62 हजार से अधिक अधिकारियों व जवानों को कोरोना की द्वितीय डोज लगाई जा चुकी है। उन्होंने शेष पुलिस कर्मियों से यथाशीघ्र अपना वैक्सीनेशन करवाने का आग्रह किया है। साथ ही पुलिस कर्मियों से अपने परिजनों का भी यथा समय वैक्सीनेशन करवाने का आग्रह किया है। उन्होंने कुछ पुलिस अधिकारियों द्वारा इस सम्बन्ध में जन सहयोग से किये गये अनुकरणीय कार्यों को अन्य जिलों में भी कराने पर बल दिया।  

    महानिदेशक पुलिस ने राज्य सरकार द्वारा सरकारी कर्मचारियों के लिए प्रारम्भ की गई आरजीएचएस योजना को उपयोगी बताते हुए सभी पुलिस कर्मियों से अपना जन आधार कार्ड बनवाकर शीघ्र इस योजना से जुड़ने का आह्वान किया है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा बन्दी खुराब भत्ता 30 रूपये से बढ़ाकर 70 रूपये किया गया है। उन्होंने इसका उचित उपयोग करने के निर्देश दिये। 
 लाठर ने कहा कि राज्य सरकार एवं पुलिस विभाग, पुलिस कर्मियों की समस्याओं के समाधान के प्रति गम्भीर है। कोरोना वारियर्स के तौर पर पुलिस कर्मियों को सरकार, विभाग व आम जनता द्वारा पूरा सहयोग प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने कोरोना के विरूद्ध चल रही लड़ाई में पुलिस कर्मियों को पूर्ण मनोयोग व मनोबल के साथ कार्य करने का आह्वान किया है।